Breaking News: अयोध्या मामला: 100 दिन में आ सकता है फैसला, 17 नवंबर होगी ऐतिहासिक तारीख, राज्यसभा में गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) कानून (UAPA) पारित

breaking news

अयोध्‍या मामले पर बड़ा फैसला

नई दिल्‍ली (khabargali) अयोध्‍या मामले पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को बड़ा फैसला लिया है. आगामी 6 आगस्त से अब हर रोज अयोध्या मामले पर सुनवाई होगी. शुक्रवार (02 अगस्त) को मामले पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने साफ किया कि मध्‍यस्‍थता का कोई नतीजा नहीं निकला है. ये कयाय लगाए जा रहे हैं कि अगले 100 दिनों में अयोध्या मामले का फैसला आ सकता है.

17  नवंबर, 2019 को रिटायर हो रहे हैं CJI

दरअसल, 17 नवंबर, 2019  को संवैधानिक बेंच के प्रमुख यानि सीजेआई रिटायर हो रहे हैं. इसलिए ये कयास लगाए जा रहे हैं कि  उनके रिटायरमेंट से पहले इस बड़े मसले पर कोई फैसला आ सकता है.  

मध्यस्थता  फेल

सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को सुनवाई करते हुए अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद मामले में गठित मध्यस्थता कमेटी को भंग कर दिया है.

राज्यसभा में भी पास हुआ UAPA संशोधन बिल

शाह ने कहा- 2009 में ऐसा प्रावधान होता तो भटकल नहीं बच पाता

राज्यसभा में शुक्रवार को गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) कानून (UAPA) पारित हो गया। इसके पक्ष में 147 और विरोध में 42 वोट पड़े।

राज्यसभा ने शुक्रवार को किसी व्यक्ति को आतंकवादी घोषित करने तथा आतंकवाद की जांच के मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) को और अधिकार देने वाले एक महत्वपूर्ण विधेयक को पारित कर दिया। सरकार ने इसके प्रावधानों के दुरूपयोग की विपक्ष की आशंकाओं को निराधार करार देते हुए कहा कि इसके प्रावधान जांच एजेंसियों को आतंकवाद से ‘चार कदम आगे रखने के लिए हैं।’ गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) कानून (UAPA) के पक्ष में 147 और विरोध में 42 वोट पड़े। वहीं, सदन ने विपक्ष के इसे सेलेक्ट कमिटी में भेजने के प्रस्ताव को 84 के मुकाबले 104 मतों से खारिज कर दिया। आपको बता दें कि लोकसभा में यह बिल पिछले महीने ही पारित हो गया था।

अन्य बड़ी खबरें

1. अमरनाथ यात्रा पर आतंक का साया, सरकार ने यात्रियों को जम्मू-कश्मीर से वापस लौटने को कहा

कश्‍मीर में आतंकवादी घटनाओं में पिछले कुछ समय में बढ़ोतरी और कानून-व्‍यवस्‍था बनाए रखने के लिए अतिरिक्‍त बलों की तैनाती के बीच भारतीय सेना ने साफ कहा है कि इन घटनाओं के पीछे पाकिस्‍तान का हाथ है और पड़ोसी मुल्‍क सेना सीधे तौर पर यहां आतंकी गतिविधियों में लिप्त है। चिनार कॉर्प्‍स कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्‍लन ने यह भी कहा कि आतंकियों ने अमरनाथ यात्रियों को भी निशाना बनाने की नापाक साजिश की थी, जिसे सुरक्षा बलों की मुस्‍तैदी ने नाकाम कर दिया।  आतंकियों के निशाने पर थे अमरनाथ यात्री, स्‍नाइपर अटैक की थी साजिश।  वहीं जम्मू-कश्मीर में 25 हजार जवान और भेजे जाएंगे। इससे पहले सरकार ने घाटी में 100 कंपनियों को भेजने के आदेश दिए थे।

2. उन्नाव रेप पीड़िता के चाचा को रायबरेली जेल से तिहाड़ शिफ्ट करने का सुप्रीम कोर्ट का आदेश

उन्नाव रेप केस और रोड हादसे मामले में सुप्रीम कोर्ट में लगातार दूसरे दिन सुनवाई हुई। इस दौरान कोर्ट ने पीड़िता के चाचा, जो इस समय रायबरेली की जेल में बंद हैं उन्हें तुरंत तिहाड़ जेल में शिफ्ट करने का आदेश दिया। वहीं पीड़िता को दिल्ली एयरलिफ्ट करने को लेकर कोर्ट ने कहा कि फिलहाल पीड़िता को इलाज के लिए दिल्ली शिफ्ट नहीं किया जाएगा।

3. NDTV के रवीश कुमार को मिला वर्ष 2019 का रैमॉन मैगसेसे पुरस्कार

4. नेशनल मेडिकल कमिशन बिल: तीसरे दिन भी एम्स के डॉक्टरों की हड़ताल जारी

5. नोएडा में पुलिस ने दो फर्जी IAS और IPS को किया गिरफ्तार

6. सशर्त नहीं बल्कि भय मुक्त माहौल में कुलभूषण को कांसुलर एक्सेस दे पाकिस्तान: भारत