howdy modi: दुनिया भर में 200 करोड़ लोगों ने लाइव देखा.. अमेरिका का ह्यूस्टन हुआ मोदीमय

Howdy, Modi
Howdy, Modi 2

पहली बार मोदी- ट्रम्प का एक साथ संबोधन- इस्लामिक आतंकवाद निशाने पर

कार्यक्रम में भारतीय और अमेरिकी मूल के लगभग 50 हजार से अधिक लोग मौजूद थे. 

नई दिल्ली (khabargali ) अमेरिका के ह्यूस्टन में आयोजित हुए 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम ने दुनियाभर के लोगों का ध्यान अपनी तरफ खींचा है. पीएम नरेंद्र मोदी के इस कार्यक्रम में उन्हें और करीब से जानने के लिए भारतीय और अमेरिकी मूल के लगभग 50 हजार से अधिक लोग मौजूद थे. पहली बार मोदी- ट्रम्प का एक साथ संबोधन- इस्लामिक आतंकवाद निशाने पर
दुनिया भर में 200 करोड़ लोगों ने कार्यक्रम लाइव देखा

ट्रंप ने टैक्सास प्रांत की राजधानी ह्यूस्टन में एनआरजी फुटबाल स्टेडियम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ हजारों  भारतीय अमेरिकी समुदाय को संबोधित किया। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत और अमेरिका की प्रगाढ़ मित्रता पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि अमेरिका और भारत अपने देशों की सीमाओं की सुरक्षा तथा कट्टर इस्लामिक आतंकवाद से मासूम नागरिकों को बचाने को लेकर प्रतिबद्ध हैं।   वहीं पीएम मोदी ने ट्रंप की मौजूदगी में लोगों को संबोधित किया। कहा कि आज भारत पहले के मुकाबले और तेज गति से आगे बढ़ना चाहता है। अब हर भारतीय 21 वीं सदी में देश को नयी ऊंचाई पर ले जाने के लिए अधीर है। बीते 5 सालों में 130 करोड़ भारतीयों ने हर क्षेत्र में ऐसे नतीजे हासिल किए हैं जिनकी पहले कोई कल्पना भी नहीं कर सकता था। उन्होंने कहा , “ आज भारत का सबसे चर्चित शब्द है- विकास, सबसे बड़ा मंत्र है- सबका साथ-सबका विकास, भारत की सबसे बड़ी नीति है- जन भागिदारी, भारत का सबसे प्रचलित नारा है- संकल्प से सिद्धि और भारत का सबसे बड़ा संकल्प है- नया भारत। ” पीएम मोदी ने अपने संबोधन में आतंकवाद, जम्मू-कश्मीर और आर्थिक विकास जैसे कई विषयों पर चर्चा की. आतंकवाद पर पाकिस्तान की भूमिका पर मोदी ने जमकर निशाना साधा.

पीएम मोदी की तारीफ में डोनाल्ड ट्रंप ने कहीं ये बातें 

1- अमेरिकी राष्ट्रपति ने पीएम मोदी को अमेरिका का सबसे निष्ठावान मित्र बताया और उन्हें हाल में बीते उनके जन्मदिन की शुभकामनाएं भी दीं। उन्होंने कहा कि भारत में मोदी वही कर रहे हैं जो अमेरिका में हो रहा है। उन्होंने मोदी को भारत और अमेरिका के रिश्तों को ऊपर ले जाने वाला बताते हुए कहा कि दोनों देशों के रिश्ते इतने मजबूत पहले कभी नहीं हुए। 
2- ट्रंप ने दावा किया, “व्हाइट हाउस में डोनाल्ड ट्रंप से बेहतर भारत का कोई दोस्त कभी नहीं हुआ और न हो सकता है।”
3- भारत और अमेरिका कानून को मानने वाले, न्याय के सिद्धांत पर चलने वाले और लोकतंत्र को सही भावना में मजबूत करने वाले देश हैं। 
4- ट्रंप ने मोदी के नेतृत्व में बीते पांच साल में 30 करोड़ गरीबों को गरीबी रेखा से बाहर निकालने की सराहना करते हुए कहा कि अमेरिका में 14 करोड़ नये लोग मध्यम वर्ग में आये हैं। हम दोनों देश बेरोजगारी बढ़ाने वाले कानूनों और नियमों को समाप्त कर रहे हैं। अमेरिका में सबसे बड़े कर सुधार हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि अमेरिका में रोजगार की स्थिति देश के इतिहास में सबसे अच्छी स्थिति में आ गयी है।
5- भारत ने अमेरिका में इससे पहले कभी इतना निवेश नहीं किया जितना वह अब कर रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि अमेरिका भी भारत में विशाल निवेश कर रहा है। भारत में अमेरिका का नियार्त भी बढ़ रहा है और भारतीयों को जल्द ही विश्व के सवोर्त्तम उत्पाद प्राप्त होंगे। 
6- ट्रंप ने भारत एवं अमेरिका के रक्षा संबंधों में विस्तार का उल्लेख करते हुए कहा कि अमेरिका से भारत को 80 अरब डॉलर का रक्षा निर्यात हुआ है। जल्द ही नवंबर में पहली बार दोनों देशों की तीनों सेनाओं का संयुक्त अभ्यास टाइगर ट्रम्फ किया जाएगा। उन्होंने कहा कि उन्हें इस बात का गर्व है कि भारतीय एवं अमेरिकी सैन्य बल हमारी आजादी की सुरक्षा के लिए डटे हुए हैं। हम अपने निर्दोष नागरिकों को कट्टर इस्लामिक आतंकवाद के खतरे से बचाने के लिए कटिबद्ध हैं। हमारी सीमाओं की सुरक्षा हमारे लिए बहुत ही अहम हैं और इसको लेकर भी हम दृढ़ प्रतिज्ञ हैं। 
7- अमेरिकी राष्ट्रपति ने इस बात पर भी प्रसन्नता व्यक्त की कि बहुत जल्द ही अगले सप्ताह भारत में विश्व स्तरीय अमेरिकन एनबीए बॉस्केटबॉल टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा, “प्रधानमंत्री जी क्या मुझे निमंत्रण मिलेगा ? मैं आ सकता हूं, तैयार रहियेगा मैं वाकई में आ सकता हूं।” 

पीएम मोदी ने कहा कि 5 ट्रिलियन अर्थव्यवस्था को लेकर भारत ने कमर कसी है

उन्होंने कहा कि असंभव को भारत ने संभव करके दिखाया है। उन्होंने कहा कि हमने एफडीआई के शर्तों को आसान बनाया है। इस दौरान पीएम मोदी ने एक कविता भी सुनाई। उन्होंने कहा कि अभी समय कम है इसलिए वो दो पंक्ति की कविता सुनाएंगे-
वो जो मुश्किलों का अंबार है
वहीं तो मेरे हौसलों की मीनार है

इसके साथ ही, पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने 70 साल से जारी अनुच्छेद 370 को हटा दिया। पीएम मोदी ने पाकिस्तान का बिना नाम लिए उस पर निशाना भी साधा। उन्होंने कहा आतंकवाद की लड़ाई में राष्ट्रपति ट्रंप उनके साथ हैं। उन्होने कहा 9/11 और 26/11 के साजिशकर्ता कहां मिलते हैं?
अमेरिका के ह्यूस्टन में हाउडी मोदी कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पहुंचने पर मोदी-मोदी के नारे लगे। हाउडी मोदी को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हमारे साथ वो खास मेहमान मौजूद हैं जिन्हें किसी पहचान की जरूरत नहीं है। पीएम मोदी ने आगे कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप जो कहते है उसे दुनिया गौर से सुनती है। 

Howdy, Modi

एक दूसरे का हाथ पकड़कर स्टेडियम का चक्कर लगाया

अपना संबोधन खत्म करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंच से नीचे आकर ट्रंप से हाथ मिलाया। इसके दोनों नेता एक दूसरे का हाथ पकड़कर स्टेडियम का चक्कर लगाया। दोनों नेता काफी देर तक लोगों का अभिवादन करते रहे।

मोदी ने ट्रंप को सपरिवार भारत आने का न्यौता दिया

पीएम मोदी ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप आर्ट ऑफ द डील में माहिर हैं. मैं उनसे सीख रहा हूं. उनसे बातचीत से सकारात्मक परिणाम आएंगे. इस दौरान पीएम मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को सपरिवार भारत आने का न्यौता दिया. 

बेरोजगारी के अलावा भारत में सब अच्छा है-पी. चिदंबरम 

आईएनएक्स मीडिया केस में गिरफ्तार पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने जेल से ही हाउडी मोदी के बहाने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा. कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से तिहाड़ जेल में मुलाकात के बाद सोमवार को पी. चिदंबरम ने कहा कि बेरोजगारी के अलावा भारत में सब अच्छा है. पी. चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा नौकरियों पर संकट, मॉब लिंचिंग, कश्मीर में तालाबंदी, विपक्षी नेताओं को जेल में डालना और कम वेतन छोड़कर भारत में सब अच्छा है. गौरतलब है कि पीएम मोदी ने 'हाउडी मोदी' के जवाब में कहा था कि भारत में सब कुछ ठीक है।

मोदी के 'अबकी बार ट्रंप सरकार' नारे पर विवाद

ह्यूस्टन में मोदी का जादू तो चल गया। लेकिन अबकी बार ट्रंप सरकार वाले नारे पर देश में सियासत गर्मा गई। कांग्रेस ने विदेश नीति के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए पीएम मोदी पर हमला किया. कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा कि - प्रधानमंत्री के तौर अमेरिका गए थे ना कि प्रचारक के तौर पर ।

निराशाजनक शो कहा पाकिस्तान के मंत्री फवाद हुसैन ने

पीएम मोदी पर बार बार विवादस्पद टिप्पणी कर किरकरी कराने वाले पाकिस्तान के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद हुसैन चौधरी हाउडी मोदी कार्यक्रम की अपार सफलता से खिसिया गए और इसे असफला बता कर एक बार अपनी खीज प्रकट की। उन्होंने ट्वीट किया,“अरबों रुपए खर्च करने के बाद भी मोदी जनता का निराशाजनक शो। यह लोग केवल यही कर सकते हैं, अमेरिका, कनाडा और अन्य स्थानों से भीड़ जुटा सकते हैं, किंतु यह शो यह दशार्ता है कि पैसे से सब कुछ हासिल नहीं किया जा सकता है।” ट्विटर में हैशटैग मोदी ह्यूस्टन का इस्तेमाल किया गया है।

मोदी समर्थकों के साथ- साथ बॉलीवुड हस्तियां भी मोदी के भाषण की मुरीद 

बीजेपी नेता, मोदी समर्थकों के साथ साथ बॉलीवुड हस्तियां भी मोदी के भाषण की मुरीद हो गई हैं और उनकी तारीफ कर रही हैं। इन बॉलीवुड हस्तियों में बॉलीवुड एक्टर सलमान खान, अभिनेता अनुपम खेर, करण जौहर, ऋषि कपूर आदि का नाम शामिल है। सलमान खान ने एक फोटो ट्वीट किया है, जिसमें पीएम मोदी और डोनाल्ड ट्रंप दिखाई दे रहे हैं। इस फोटो के साथ सलमान ने ट्वीट किया, '2 देशों के बीच हुई इस महान साझेदारी की ओर पीएम मोदी और राष्ट्रपति ट्रंप। साथ ही उन्होंने पीएम मोदी और डोनाल्ड ट्रंप को टैग भी किया है।
 कमाल आर खान  ने कहा कि अब पाकिस्तान के पास दो ही रास्ते बचे हैं. केआरके  ने कहा, 'पहला, सभी आतंकवादियों को खत्म करे. दूसरा, देश को खत्म कर दे. मैं आशा करता हूं कि इमरान खान पहला रास्ता चुनेंगे. दिग्गज एक्टर ऋषि कपूर ने भी ट्वीट किया था. हमें खुद पर गर्व है, हमें अपने समुदाय पर गर्व है और हमें अपने भारत पर गर्व है.
राहुल ढोलकिया ने भी ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने इस कार्यक्रम को 'पीआर मास्टरस्ट्रोक' बताया है. राहुल का यह ट्वीट सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है.