संचार क्रांति के युग मे डिजिटल साक्षरता जरूरी- शिक्षामंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम

gadhbo digitel cg 1
gadhbo digitel cg

नवाचारी पहल "गढ़बो डिजिटल छत्तीसगढ़" के सफल क्रियान्वयन हेतु राज्य स्तरीय प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित

रायपुर (khabargali ) राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण छत्तीसगढ़ के तत्वाधान में आयोजित मुख्यमंत्री शहरी कार्यात्मक साक्षरता के सफल क्रियान्वयन हेतु राज्य स्तरीय प्रशिक्षण कार्यशाला के समापन समारोह में राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण के कार्यकारिणी के अध्यक्ष व स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम के मुख्य आतिथ्य एवं राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण के संचालक एस.प्रकाश ने अध्यक्षता की।
        ठाकुर प्यारे लाल ग्रामीण विकास संस्थान निमोरा ,रायपुर के सभागार में मुख्य अथिति की आसंदी से बोलते हुए स्कूल शिक्षामंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम ने अपने उद्बोधन में कहा कि आज का युग संचार क्रांति का युग है, जिसमे सभी को आगे आना है। सबको आज के समय मे डिजिटल पेमेंट के माध्यम से रेलवे टिकट बुकिंग,बिजली बिल भुगतान,मोबाइल व डीटीएच रिचार्ज जैसे अनेक सुविधाओ का प्रतिदिन उपयोग करना होता है। इन सभी हितग्राहियों को ई-साक्षरता केंद्र के माध्यम से डिजिटली साक्षर करने का अभिनव पहल छत्तीसगढ़ राज्य में किया जा रहा है। उन्होंने ई साक्षरता केंद्र में श्रेष्ठ पालकत्व , आत्मरक्षा,जीवन मूल्य,कौशल विकास,चुनावी,वित्तीय एवं विधिक साक्षरता की जानकारी भी साथ मे दिए जाने को सराहनीय कदम बताया। 
       स्कूल शिक्षामंत्री ने आगे कहा कि स्कूली बच्चों को भी ब्लैकबोर्ड की जगह की - बोर्ड से परिचित कराया जा रहा है। उन्होंने मुख्यमंत्री जी की परिकल्पना "गढ़बो डिजिटल छत्तीसगढ़" के बारे में भी अपनी बात रखते हुए कहा कि समाज के वंचित वर्ग की महिलाएं डिजिटल शिक्षा से पीछे न रहे इस बात का भी विशेष तौर पर ख्याल रखा जाय। उन्होंने कार्यक्रम के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए सभी जिलों को अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की। 

प्रदेश में कुल 36 केंद्र संचालित, लगभग 2000 से अधिक शिक्षार्थियों को डिजिटल साक्षर बनाया

इस अवसर पर संचालक एवं सदस्य सचिव राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण,छत्तीसगढ़ एस.प्रकाश ने कहा कि मुख्यमंत्री शहरी कार्यात्मक साक्षरता कार्यक्रम के तहत वर्तमान में छत्तीसगढ़ में कुल 36 केंद्र संचालित है,जहाँ 2 -2 ई-एडुकेटर्स के माध्यम से लगभग 2000 से अधिक शिक्षार्थियों को सफलतापूर्वक डिजिटल साक्षर बनाया गया है। उन्होंने विभिन्न क्षेत्रों से आ रही नवीन ई शाक्षरता केंद्रों के प्रस्ताव से भी स्कूल शिक्षामंत्री को अवगत कराया। उन्होंने यह भी बताया कि पूरे देश मे केवल छत्तीसगढ़ राज्य में यह अभिनव पहल किया जा रहा है। जिसके अवलोकन हेतु राजस्थान,आंध्रप्रदेश व तेलंगाना राज्य से अवलोकन दल का  छत्तीसगढ़  आना प्रस्तावित है। 
       समापन समारोह के अवसर पर सहायक संचालक प्रशिक्षण एवं प्रशासन प्रशांत कुमार पांडेय ने नवाचारी पहल "गढ़बो डिजिटल छत्तीसगढ़" कार्यक्रम के लक्ष्य, उद्देश्य व प्रगति को पॉवरपॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से प्रस्तुत किया। इस अवसर पर राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकारण द्वारा श्रेष्ठ पालकत्व व आखर अंजोर पर तैयार पोस्टर एवं फोटो का विमोचन स्कूल शिक्षामंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम के करकमलों से किया गया। कार्यक्रम का सफल संचालन प्रशांत कुमार पांडेय एवं आभार प्रदर्शन सहायक संचालक योजना एवं वित्त दिनेश कुमार टांक द्वारा किया गया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से राज्य स्तरीय स्त्रोत सदस्य मदन उपाध्याय, उमेश कुमार जायसवाल,लोक अभियोजक उत्तम सिन्हा,चुन्नीलाल शर्मा,डॉ कामिनी बावनकर,निधि अग्रवाल के अलावा ज़िला परियोजना अधिकारी गिरीश कुमार गुप्ता,रेखराज शर्मा,रश्मि सिंह,आई पी यादव,पी आर चंद्राकर ,श्री जाटवर सक्रिय रूप से उपस्थित रहे।

Category
Tags