प्रदेश की सुदृढ़ पारेषण प्रणाली से विद्युत आपूर्ति हूई जल्द बहाल- शैलेन्द्र शुक्ला

shailendra kumar shukla

आदिवासी क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति हेतु दोहरी पारेषण लाईन स्थापित

रायपुर (khabargali) 11मई 2019-   भिलाई के 220के वी उपकेंद्र के ट्रांसफार्मर में आग लगने से बस्तर दूर्ग राजनांदगांव के सभी फीडर और रायपुर के दो फीडर बंद हो गए थे। जिससे इन क्षेत्रों की बिजली आपूर्ति बाधित रही। जानकारी मिलते ही पावर कम्पनी के अध्यक्ष श्री शैलेन्द्र कुमार शुक्ला सहित अन्य उच्चाधिकारियों ने पल- पल की खबर लेते मैदानी अधिकारियों को तेजी से बिजली बहाल करने दिशा निर्देश दिए। टीम वर्क का बेहतर परिणाम रहा कि एक घंटे के भीतर 95फीसदी फीडर में  बिजली आपूर्ति बहाल करने मे सफलता मिल गई। भिलाई के उपकेंद्र में गड़बड़ी से गुढियारी और सरोना के  132केवी उपकेंद्र में बिजली आपूर्ति बाधित हूई जिससे गुढियारी कूशालपुर,आमापारा, लाखेनगर, चंगोराभांठा, रायपुरा, हीरापुर, कोटा, समताकालोनी डीडीनगर, श्रीनगर, मोदहा पारा आदि क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति ठप्प रही। रायपुर में बाधित बिजली बहाल करने ई डी श्री आर के अवस्थी के साथ मैदानी अधिकारियों कर्मचारियों ने पूरी ताकत झोंक दी।गूढियारी सरोना उपकेंद्र को अन्य क्षेत्रों के सबस्टेशन से सम्बद्ध कर बिजली आपुर्ति आरंभ की गई। रात11.30 बजे तक बस्तर कांकेर सुकमा दूर्ग, राजनांदगांव बालोद, बेमेतरा,कवर्धा की आपूर्ति चालू कर दी गई। वितरण कम्पनी के डायरेक्टर श्री एच आर नरवरे ने बताया कि भिलाई के सबस्टेशन के कंरंट  ट्रांसफार्मर में आई खराबी से प्रभावित क्षेत्रों के उपकेंद्रों को अन्य सबस्टेशन से कनेक्ट करने तत्काल वैकल्पिक व्यवस्था की गई। जिससे करीब करीब सभी जिलों की बिजली आपूर्ति बहाल कर ली गई। कांकेर, चारामा , बारसूर, किंरदूल कोंडागांव, पंखाजूर, भानूप्रतापपूर और जगदलपूर को बिजली आपूर्ति करने पूरूर -बारसूर, नगरनार लाईन का अल्टरनेट उपयोग किया गया।
   पावर कम्पनी अध्यक्ष ने आकस्मिक रूप आई बड़ी  समस्या का निदान त्वरित करने के लिए मैदानी अधिकारियों कर्मचारियों की जहां सरहना की वहीं उपभोक्ताओं से मिले सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने उपभोक्ताओं को हूई असुविधा के लिए खेद भी ब्यक्त किया। श्री शूक्ला ने कहा पावर कम्पनी सेवाभावी संस्थान (सर्विस प्रोवाइडर) है। यहां सेवरत सभी छोटे- बड़े अधिकारी -कर्मचारियों को विपरीत परिस्थितियों में भी 24 घंटे सेवा देने तत्परता दिखानी होती है।पावर कम्पनी द्वारा  प्रदेश की पारेषण प्रणाली का सुदृढ़ीकरण किया गया है अनेक क्षेत्रों में खासकर आदिवासी बाहुल्य क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति हेतु दोहरी लाईन की ब्यवस्था भी की गई है जिसका लाभ कल बस्तर क्षेत्र की बाधित बिजली को  शीघ्र सामान्य बनाने के लिए मिला।वितरण प्रणाली को भी मजबूत करने का काम प्रदेश भर में चल रहा है। मानसून में बिजली आपूर्ति की बाधा रोकने इन दिनों प्री मानसून मेंटेनेंस वर्क जारी है।इस हेतू बिजली बंद की जाती है जिसकी सूचना समाचार पत्रों और एस एम एस के जरिए उपभोक्ताओं को दिए जाते हैं। उक्त जानकारी छत्तीसगढ़ स्टेट पावर कपंनी के अति. महाप्रबंधक (जनसंपर्क) विजय कुमार मिश्रा ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से दी।

Category