भूपेश सरकार द्वारा पिछली सरकार के निर्णयों की समीक्षा की आवश्यकता की बात का कांग्रेस ने किया समर्थन

Bhupesh bhaghel

पिछली सरकार के बैलाडीला का आबंटन आडानी को देना संदेह को जन्म देता है।

रायपुर (khabargali) मुख्यमंत्री ने कहा है कि पिछली सरकार के निर्णयों की समीक्षा की आवश्यकता है, लोगों को विश्वास में लेकर निर्णय क्यों नहीं लिया गया? प्रक्रिया पर पुर्नविचार की आवश्यकता की मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की बात का कांग्रेस ने समर्थन किया है।

  कांग्रेस सरकार के द्वारा बैलाडीला मामालें में प्रतिपारित की गयी समीक्षा की आवश्यकता की बात का समर्थन करते हुये प्रभारी महामंत्री गिरीश देवांगन एवं प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने एक विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि बिना लोगो को विश्वास में लिये जिस हड़बड़ी में बैलाडीला का आबंटन आडानी को किया गया वह संदेह को जन्म देता है।

अडानी को बैलाडीला खदानों के तेरहवें निक्षेप को दिये जाने की महत्वपूर्ण तिथियां जारी करते हुये प्रभारी महामंत्री गिरीश देवांगन एवं प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि टेन्डर डाक्यूमेंट एनसीएल की बोर्ड की मीटिंग में 28.07.2018 को एप्रुव किया गया। लेटर आफ इंटेट एलओआई 20.09.2018 को जारी किया गया और 6.12.2018 को हैदराबाद में एनसीएल सीएमडी, एनएमडीडी के चेयरमैन द्वारा अनुबंध पत्र पर हस्ताक्षर किये गये जबकि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार ने 17 दिसंबर 2018 को शपथग्रहण किया है।

Related Articles